VIDEO : भोपाल एयरपोर्ट पर मिली कोरोना वायरस की संदिग्ध मरीज

VIDEO : भोपाल एयरपोर्ट पर मिली कोरोना वायरस की संदिग्ध मरीज

भोपाल। देशभर में चल रहे जनता कर्फ्यू के बीच भोपाल एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस की संदिग्ध मरीज मिली है। इसके बाद मेडिकल टीम ने युवती की एयरपोर्ट पर जांच की और बुखार और जुकाम को देखकर उसे जेपी अस्पताल भेज दिया। जानकारी के मुताबिक 19 वर्षीय युवती दिल्ली से एयर इंडिया की फ्लाइट से यहां आई थी। इसकी जानकारी लगने के बाद पायलट ने विमान उड़ाने से इनकार कर दिया। इसके बाद विमान को सैनिटाइज करने के बाद फ्लाइट को पुणे रवाना कर दिया गया। भोपाल एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस की संदिग्ध मरीज मिलने पर कार्यवाहक मुख्यमंत्री कमल नाथ ने प्रदेश के मुख्य सचिव व डीजीपी से चर्चा कर तत्काल एहतियातन सभी आवश्यक कदम उठाने के लिए कहा है।

आवश्यक चीजों को छोड़कर जनता की सुरक्षा को देखते हुए भोपाल को लॉक डाउन किया जाए। यदि शुरुआत में ही सावधानी बरती जाये और इस बीमारी की रोकथाम के लिये आवश्यक कदम उठा लिये जाये तो इसे फैलने से रोका जा सकता है।जनता के स्वास्थ्य की सुरक्षा को देखते हुए तत्काल सभी आवश्यक इंतजाम किए जाये व आवश्यक कदम उठाये जावे।

स्कूल शिक्षा विभाग ने शिक्षकों के लिए वर्क फ्रॉम होम के आदेश जारी किए

स्कूल शिक्षा विभाग ने लड़कियों के साथ-साथ शिक्षकों के लिए भी 31 मार्च तक स्कूल आने पर रोक लगाई है। स्कूल शिक्षा विभाग विभाग ने एक आदेश जारी कर शिक्षक संगठनों की मांग को ध्यान में रखते हुए वर्क फ्रॉम होम का आदेश जारी किया है। शिक्षक वर्क फ्रॉम होम के तहत कार्यालय कार्य संपादित करेंगे। यह आदेश उन शिक्षकों पर लागू नहीं होगा जो पहले से छुट्टी पर हैं। जिन शिक्षकों व स्टाफ की ड्यूटी कोरो ना बचाव दल में लगाई जा चुकी है, उन शिक्षकों को अपने कार्यस्थल पर जाना होगा अपने कर्तव्य की पूर्ति करनी होगी। जिन छात्रावासों में बच्चे अभी वर्तमान में रह रहे हैं उन छात्रावासों में शिक्षकों को और स्टाफ को छात्रावास में जाना होगा और बच्चों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के उपाय बताने होंगे और उनका ध्यान रखना होगा। विभाग ने आदेश में लिखा है कि 22 मार्च से 31 मार्च तक के उक्त अवधि को समस्त प्रयोजनों के लिए कर्तव्य अवधि माना जाएगा।

COMMENTS

WORDPRESS: 0