सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 10 अगस्त तक टली, अंतिम वर्ष की परीक्षाओं पर अभी कोई फैसला नहीं

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 10 अगस्त तक टली, अंतिम वर्ष की परीक्षाओं पर अभी कोई फैसला नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने यूजीसी के 6 जुलाई के सर्कुल को चुनौती देने वाली और कोरोना महामारी को देखते हुए अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा रद्द करने की मांग करने वाली याचिकों पर सुनवाई को 10 अगस्त के लिए टाल दिया है।

सुप्रीम कोर्ट में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) की अर्जी पर सुनवाई 10 अगस्त तक के लिए टाल दी गई है। सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिकाओं में 6 जुलाई को जारी यूजीसी की उस गाइडलाइन को चुनौती दी गई थी, जिसमें देश के सभी विश्वविद्यालयों से 30 सितंबर से पहले अंतिम वर्ष की परीक्षा आयोजित कर लेने के लिए कहा गया है।

यूजीसी का कहना है कि फाइनल ईयर की परीक्षा का आयोजन जरूरी है उसको रोका नहीं जा सकता है।

यह मामला सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अशोक भूषण, सुभाष रेड्डी और एम आर शाह की बेंच के सामने लगा. यूजीसी की तरफ से कोर्ट में मौजूद सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बताया कि देश के 818 विश्वविद्यालयों में से 209 अंतिम वर्ष की परीक्षा का आयोजन कर चुके हैं। 394 परीक्षा का आयोजन करने जा रहे हैं. छात्रों को ऑनलाइन और ऑफलाइन परीक्षा का विकल्प दिया जा सकता है. इससे उनके स्वास्थ्य को खतरा नहीं होगा ।

COMMENTS

WORDPRESS: 0