UP के 377 धर्मगुरुओं के साथ योगी का संवाद, कोरोना से मिलकर लड़ने की अपील

UP के 377 धर्मगुरुओं के साथ योगी का संवाद, कोरोना से मिलकर लड़ने की अपील

कोरोना वायरस (Corona Virus) के खतरे से निपटने के लिए यूपी सरकार (UP Government) लगातार प्रयास कर रही है. इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को लखनऊ में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 377 धर्मगुरुओं से बातचीत की. इसमें सभी जिलों के धर्मगुरु शामिल थे. इससे पहले मुख्यमंत्री ने रविवार को ही सभी सांसदों और मंत्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की थी. इस दौरान सीएम योगी ने स्थिति को नियंत्रण में होने का दावा किया था।

सीएम ने साफ तौर पर कहा कि तबलीगी जमात के कारण ही कोरोना पॉजिटिव केस बढ़े हैं. इस दौरान सीएम ने आम लोगों की परेशानी दूर करने के लिए संबंधित क्षेत्र के सांसदों औऱ मंत्रियों से अपने क्षेत्रों में निगरानी रखने को कहा।

इस बातचीत के दौरान सीएम योगी ने चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन खत्म किए जाने की स्थिति में भीड़ को कैसे नियंत्रण में रखा जाए और सोशल डिस्टेंसिंग कैसे बरकरार रहे, इस पर भी सभी से सुझाव मांगे. बता दें, सीएम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रविवार रात 9 बजे की अपील पर जनसामान्य के साथ प्रभावी ढंग से अमल करने का आह्वान किया है।

यूपी में 258 तक पहुंची मरीजों की संख्या

वहीं, उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों में जबरदस्त इजाफा देखने को मिला. शनिवार को 75 नए मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए. इसमें 54 लोग वे हैं, जिन्होंने दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुए तबलीगी जमात शामिल हुए थे. अब तक प्रदेश के 30 जिलों में कुल 258 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हो चुकी है।

देश में कोविड-19 से अब तक 79 लोगों की मौत

उल्लेखनीय है कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले रविवार को बढ़कर 3,374 हो गए और मृतकों की संख्या 79 तक पहुंच गई. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के मुताबिक कल से 472 नए मामले सामने आए. 267 लोग ठीक हो चुके हैं. देश भर में 274 जिले आज तक कोरोना वायरस के कारण प्रभावित हुए हैं।

COMMENTS

WORDPRESS: 0