“मै अभी और जीना चाहता हूँ ।” ये कथन किसी और के नहीं विश्व के महान वैज्ञानिकों में से एक स्टीफन हॉकिंग के हैं ।

“मै अभी और जीना चाहता हूँ ।” ये कथन किसी और के नहीं विश्व के महान वैज्ञानिकों में से एक स्टीफन हॉकिंग के हैं ।

स्टीफन विलियम हॉकिंग का जन्म 8 जनवरी सन 1942 के दिन इंग्लैंड के ऑक्सफ़ोर्ड शहर में हुआ था । वे एक भौतिक विज्ञानी, ब्रह्माण्ड विज्ञानी, लेखक और कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में सैद्धांतिक ब्रह्मांड विज्ञान केन्द्र (Centre for Theoretical Cosmology) के शोध निर्देशक the। Stephen के पिता डॉक्टर थे और माँ एक हाउस वाइफ थीं । इसे आप संयोग कहे या कुछ और लेकिन यह सच है की महान वैज्ञानिक गलीलियो और स्टीफन हॉकिंग की जन्म तारीख एक ही the। हॉकिंग का IQ 160 है जो किसी जीनियस से भी कहीं ज्यादा है। उनकी बुद्धि का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की बचपन में लोग उन्हें “आइंस्टाइन” कह के पुकारते थे Stephen को घडियो की आंतरिक सरंचना को समझने में ज्यादा रूचि थी इसके लिए वो घड़ी के सारे पुर्जो को अलग कर उन्हें फिर जोड़ा करते थे  ।

स्टेफेन भले ही एक महान वैज्ञानिक हो लेकिन वे अपनी कक्षा में औसत से कम अंक पाने वाले छात्र थे । Stephen के पास 12 मानद डिग्रियो के साथ-साथ अमरीका का सबसे उच्च नागरिक सम्मान भी है। उन्हें गणित में बहुत दिलचस्पी थी, यहाँ तक कि उन्होंने गणितीय समीकरणों को हल करने के लिए कुछ लोगों की मदद से पुराने इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के हिस्सों से कंप्यूटर बना दिया था । हॉकिंग Oxford University में गणित की डिग्री हासिल करना चाहते थे पर उस समय University में Math की डिग्री नही दी जाती थी। इसलिए उन्होंने Physics और Chemistry की पढ़ाई का चयन किया और इसमें आसानी से डिग्री हासिल कर ली। हॉकिंग को जब बड़े डॉक्टर के पास दिखाया गया तो पता चला कि स्टीफन को “न्यूरॉन मोर्टार डीसीस” नामक अनुवाशिंक बिमारी है, जिसका कोई इलाज नहीं। इस बिमारी में व्यक्ति के सभी अंग धीरे-धीरे काम करना बंद कर देते है । जब हॉकिंग 21 साल के थे, तब से उन्हें सीढ़ियो से उतरते वक्त बोहोशी महसूस होने लगी थी। डॉक्टर के पास जाने पर डॉक्टर ने इसे सामान्य कमजोरी बताया था,पर स्टीफन की समस्या दिन ब दिन बढ़ती ही जा रही थी, वो कोई भी काम ढंग से नही कर पाते थे।  उन्हें भौतिकी के छोटे-बड़े कुल 12 पुरस्कारों से नवाजा जा चूका है । हॉकिंग को अल्बर्ट आइंस्टीन पुरस्कार (1978) भी दिया जा चूका है । जब डॉक्टरो ने कहा था कि स्टीफन अब ज्यादा से ज्यादा सिर्फ 2 साल के मेहमान हैं तब स्टेफेन ने कहा की मैं 2 नहीं, 20 नहीं पूरे 50 सालो तक जियूँगा और आज अपने आत्मविश्वास के बल पर स्टीफन 75 साल के हैं।

वे एक मशहूर लेखक भी है उनकी लिखी गयी किताब “A BRIEF HISTORY OF TIME “ ने दुनिया भर के विज्ञान जगत में तहलका मचा दिया था । Stephen किताबें पढ़ना और लिखना काफी पसंद करते the। लेकिन अपनी किताब में ईश्वर के अस्तित्व को नकारने पर उन्हें काफी विरोध का सामना भी करना पड़ा था | हॉकिंग ने अपने जीवन में दो बार शादी की है और उनके तीन बच्चे भी है | Stephen Hawking का अपनी दोनों बीवियों से तलाक हुआ था जिसका कारण उनका भगवान के अस्तित्व को चुनौती देना माना जाता है । Stephen ने सन 2007 में अंतरिक्ष की सैर भी की थी जिसमे वो शारीरिक तौर पे “फिट “ पाए गए।

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0